Use our free online Tool Electric Power Consumption

Facebook

Subscribe for New Post Notifications

Arquivo do blog

Categories

Ad Home

BANNER 728X90

Labels

Random Posts

Recent Posts

Recent in Sports

Header Ads

test

Popular Posts

Pages

Business

Fashion

Business

[3,Design,post-tag]

FEATURED POSTS

Theme images by Storman. Powered by Blogger.

Featured post

पंचतंत्र कहानियाँ Hindi stories for kids panchatantra

हम लाये है आप के लिए panchtantra ki kahaniya या फिर कहे bachon ki kahaniyan in hindi इस आर्टिकल में आप को moral stories for childrens in hi...

Featured

Saturday, 30 June 2018

नई द्ल्हन एक true love story in Hindi

- No comments
इस पोस्ट में आप के लिये एक sweet love story in Hindi की एक कहानी लिखी गयी है जो आप को जरुर पसंद आयेगी आप इसको  most romantic love story in Hindi  या फिर emotional love story in Hindi या फिर indian love story in Hindi का नाम भी दे सकते है.



एक लड़की की शादी उसके मर्ज़ी के खिलाफ बहुत सीधे लड़के से हो जाती है ,लड़की किसी और लड़के से प्यार करती थी.
सुहागरात वाले दिन लड़का नई दुल्हन के लिए दूध ले के आता है तब दुल्हन कहती है "एक पत्नी की मर्जी के बिना पति उसको हाथ लगाये तो उसे बलात्कार कहते है या फिर हक?"
पति:आप को इतना लम्बी और गहरी जाने की कोई जरुरुत नहीं है बस दूध लाया हु पी लीजिये.हम सिर्फ आप को गुड नाईट कहने आये थे .
इतनी बात कहकर वो कमरे से निकल गया.लड़की मन मारकर रह जाती है क्यों की लड़की चाहती थी की
झगडा हो ताकि मै इस लड़के से पीछा छुड़ा सकू .
वो घर का कोई काम नहीं करती थी दिन भर ऑनलाइन रहती और किसी से बात करती रहती थी और लड़के की
माँ बिना किसी शिकायत के दिन भर चूल्हा-चौका से लेकर घर का सारा काम करती थी मगर हर पल अपने होंटो पर मुस्कराहट लिए रहती थी.
लड़का एक कंपनी में बहुत छोटे पोस्ट पे था और बहुत जादा मेहनती और इमानदार था .करीब एक महीना
ऐसे ही निकल गया लेकिन पति -पत्नी अब तक साथ नहीं सोये थे.वैसे लड़का बहुत शांत नेचर का था इसलिये वो जादा बात नहीं करता था .

बस खाते टाइम पूछ लेता था कहा कहोगी अपने कमरे में या फिर हमारे साथ.लड़के की सोने से पहले डायरी
लिखने की आदत थी वो हर रात को लिखता था.

लड़की के पास एक स्कूटी थी. वो हर रोज बाहर जाती थी पति के ऑफिस जाने के बाद और पति के वापस
लौटते ही आ जाती थी .छुट्टी का दिन था लड़का भी घर पर था ,लड़की ने अच्छे -भले खाने को भी गन्दा कह कर
माँ को अपशब्द बोल के खाना फेक देती है.मगर वो शांत रहने वाला लड़का आज अपनी पत्नी पर हाथ उठा देता है मगर माँ अपने बेटे को बहुत डाटती है .इधर लड़की को बहाना चाहयिए था झगडे का जो उसको मिल गया था ,वह गुस्से में स्कूटी ले के निकल देती है .लड़की रोज घर से बाहर अपने प्यार से मिलने जाती थी.
लड़की उस लड़के को टूट कर चाहती थी लेकिन उसको पता था की हर लड़की की एक हद होती है जिसे इज्ज़त
कहते है वो उसको बचाए रखी थी.इधर लड़की अपने प्यार के पास पहुच कर कहती है "अब तो एक पल भी उस
घर में नहीं रहना है.आज उस गवार ने मुझ पे हाथ उठाया आज."
लड़का-अरे तुम से कब से कहता हु की भाग चलो मेरे साथ कही दूर मगर तुम हो की की आज कल पे लगी रहती हो.
लड़की-शादी के दिन मै आयी तो थी तुम्हारे पास .तुम ही ने तो लौटाया था मुझे .
लड़का -खाली हाथ कहा तक भाग सकते है . मैंने तो कहा था की कुछ पैसे और गहने साथ ले लो तुम तो खाली हाथ आयी थी.आखिर दूर एक नई जगह में जिंदगी नये सिरे से शुरू करने के लिए पैसे तो चाहयिए ना?

लड़की-तुम्हारे और मेरे प्यार के बारे जानकार मेरे घर वालो ने पासबुक और एटीएम ,गहने तक रख लिये थे .तो
मै क्या क्या लाती अपने साथ.हम दोनों मेहनत कर के कमा भी सकते थे .
लड़का -चालाक इन्सान पहले सोचता है और फिर काम करता है ,खाली हाथ भागते तो इश्क का भूत दो दिन
में उतर जाता समझी.और जब भी तुम्हे छूना चाहता हु बहुत नखरे है तुम्हारे बस कहती हो शादी बाद.
लड़की-हाँ शादी के बाद ही अच्छा होता है ये सब और सब तुम्हरा ही तो है .मै आज एक कुवारी लड़की हु.
शादी कर के भी आज तक उस गवार के साथ सो नहीं सकी क्यों की तुम्हे ही अपना पति मान चुकी हु बस
तुम्हारे नाम का सिन्दूर लगाना बाकी है.बस वह लगा दो सब कुछ तुम अपनी मर्जी से करना  .
लड़का -ठीक है मै तैयार हु .मगर इस बार कुछ पैसे जरुर साथ ले के आना ,मत सोचना हम दौलत से प्यार करते है,हम सिर्फ तुमसे ही प्यार करते है बस कुछ छोटी-मोटी बिज़नस के लिए पैसे चाहयिए.
लड़की-उस गंवार के पास कहा होगा पैसा ,मेरे बाप से 3 लाख रूपए ऊपर से कार ली है.बस कुछ गहने है वो
ले के आउंगी आज.

लड़की को होटल का पता देकर चला जाता है .लड़की घर आ के फिर से लड़ाई करती है.मगर अफ़सोस वो अकेली चिल्लाती रहती है उस से लड़ने वाला कोई नहीं था .रात के 8 बजे लड़के का मेसेज आता है.whatsapp पे कब आ रही हो.

लड़की जवाब देती है सब्र करो कोई सोया नहीं है .मै 12 बजे से पहले पहुच जाउंगी क्यों की यंहा तुम्हारे बिना
मेरी सांसे  घुटती है .
लड़का :ok जल्दी आना,मै होटल के बाहर खड़ा रहूँगा
लड़की अपने पति को बोल देती है की मुझे खाना नहीं खाना है मैंने बाहर खा लिया है ,और फिर कमरे का
दरवाजा बंद कर लेती है .
पति बोलता है अलमारी में मेरी डायरी है दे दो.लड़की दरवाजा खोले बिना कहती है की चाभी दे दो अलमारी की .
लड़का -तुम्हारे बिस्तर के नीचे है चाबी,मगर लड़की दरवाजा नहीं खोलती है और जोर -जोर से गाना
सुनने लगती है .लड़का कुछ देर इंतजार करता रहा है फिर हार कर वापस चला जाता है .फिर वो अलमारी खोलती है उसने वो अलमारी पहली बार खोली थी क्यों की वो उस अलमारी से अपना सामान अलग रखती थी .
आलमारी खोलते ही हैरान हो जाती है .आलमारी के अन्दर उसकी पासबुक ,एटीएम कार्ड था जो उसके घर
वालो ने ले लिया था सब कुछ रखा था. उसने और चेक किया तब देखा उसमे वो पैसे और गहने भी थे जो उसको मिले थे .और भी बहुत सारे गहने जो एक पेपर के साथ थे और उसकी मल्कियत लड़की के नाम थी .लड़की बहुत
हैरान और परेशान थी .फिर उसकी नजर डायरी पे पड़ी और वह डायरी निकाल कर पढने लगी .

उसमे लिखा था तुम्हारे पापा ने एक दिन मेरी माँ की जान बचायी थी खून दे कर .मै अपनी माँ से बेहद प्यार करता हु.इसलिये तुम्हारे पापा से कहा की आप का एहसान कभी नहीं भूलूंगा.कुछ दिन बाद तुम्हारे पापा हमारे घर आये ,तुम्हारे रिश्ते की बात लेकर उन्होंने मुझे हर बात बतायी की आप किसी लड़के से प्यार करती है .आपके पापा आपकी खुशी चाहते थे इसलिये वह लड़के को जानना चाहते थे.क्यों की आप अपने पापा की प्रिंसेस हो और कोई भी बाप अपने प्रिंसेस को किसी और के हाथ में देने से पहले अच्छे से अपनी संतुष्टि करेगा .
आप के पापा को ये पता चला की वो लड़का बहुत सारी लडकियों को धोखा दे चूका है और उसकी एक बार
शादी भी हो चुकी है लेकिन आप को बता ना सके क्यों की आप के ऊपर उसका इश्क का नशा चड़ा हुआ था .
एक बाप के मुँह से एक बेटी की कहानी सुनकर में चौक गया और आप के पापा रोने लगे .

मुझे यकीन हो गया था की एक अच्छा पति होने सम्मान मिले ना मिले मगर एक दामाद होने की इज्जत
मै हमेशा पा सकता हु .मैंने दहेज़ में मिले सारे पैसे तुम्हारे अकाउंट में जमा कर दिये है और तुम्हरी घर से मिली गाड़ी आज भी तुम्हरे घर पर है जो मैंने इसलिये भेजी ताकि जब तुम्हे मुझसे प्यार हो जाये तो साथ चलेंगे कही दूर घुमने .
दहेज इस नाम से नफरत है मुझे क्यों की मैंने इस दहेज़ में अपनी बहन और बाप को खोया है .मेरे बाप के अंतिम शब्द भी यही थे के किसी के बेटी के बाप से एक रुपय भी मत लेना.डायरी के बीच तलाक का पेपर भी है जहा मैंने पहले साइन कर दिया है .जब तुम्हे लगे की अब इस गंवार के साथ नहीं रहना है तो साइन कर के कही भी अपनी सारी चीज़े ले जा सकती हो.
लड़की हैरान और परेशान थी ना चाहते हुए भी गंवार के शब्दों ने उसके दिल को छु लिया था .अनदेखे प्यार को महसूस कर के पलके नम हुई थी आगे लिखा था ,मैंने तुम्हे इस लिए थप्पड़ मारा क्यों की आपने मेरी माँ को गाली दी ,और जो बेटा अपने सामने अपनी माँ की बेज्ज़ती होते सहन कर जाये  फिर वह बेटा कैसा ?कल आप के भी बच्चे होंगे .चाहे किसी के साथ भी हो ,तब महसूस होगा की माँ की महानता और प्यार .आप को दुल्हन बना के हमसफ़र बनाने लाया हु जबरजस्ती करने नहीं.जब आपको हम से प्यार हो जायेगा तो भरपूर वसूल कर लेंगे आप से ,आप के हर गुस्ताखी का बदला हम प्यार से लेंगे .
लड़की का फ़ोन बज रहा था जो वाइब्रेशन मोड पे था ,लड़की अब दुल्हन बन चुकी थी .पलकों से आंसू गिर रहे थे
.सिसकते हुए मोबाइल से पहले सिम निकाल दिया और सारा सामान जैसा था वैसा रख के जाने कब सो गयी
पता नहीं चला उसे .


सुबह देर से उठी तब तक गंवार नहा-धोकर ऑफिस जा चूका था ,पहले नहा-धोकर साडी पहनी ,लम्बी से
सिन्दूर डाली ,मंगलसूत्र पहना.पहले एक छोटा से सिन्दूर लगाती थी ताकि कोई लड़का ध्यान न दे मगर आज 5 km से दिखाई देगी ऐसी लम्बी और गाढ़ी सिन्दूर लगायी दुल्हन ने .फिर किचेन में जा के काम संभालती है .
और अपने पति के लिए थोड़े नमकीन ,चाय और मीठा बना के स्कूटी से सासु माँ को जबरजस्ती अपने साथ
बैठा के ले जाती है सासु माँ से ऑफिस का रास्ता पूछ के .पति हैरान था पत्नी को इस हालत में देख कर .
पति :सब ठीक हा न?

मगर माँ कुछ बोलती इस से पहले पत्नी गले लगा कर कहती है की "अब सब ठीक है I Love You Forever"
ऑफिस के लोग सब खड़े हो जाते है तो दुल्हन कहती है
की मै इनकी धर्मपत्नी हु .बनवास गयी थी आज ही लौटी हु अब एक महीने तक मेरे पतिदेव  ऑफिस में दिखाई नहीं देंगे.
ऑफिस के लोग:क्यों???????
दुल्हन :क्यों की हम लम्बी छुट्टी पे जा रहे है साथ .
पति :पागल हो
दुल्हन :आपने बनाया है सभी लोग तालिया बजाते है और दुल्हन फिर लिपट जाती है .

"माँ-बाप के फैसलों का सम्मान करे क्यों को वो आप के लिए कभी गलत नहीं सोचेंगे "
आप ऐसे ही और कहानियो के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते थे इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज लाइक
इस तरह की और कहानिया

Friday, 29 June 2018

गोरी त्वचा चाहते है अपनाये ये तरीके gora hone ka tarika in hindi

- No comments
अगर आप भी गोरी और खूबसूरत चेहर पाना चाहते है तो rang gora karne ka tarika hindi me और rang gora karne wali cream यहाँ पे बताया गया है और gore hone ke nuskhe और face gora karne ki cream भी बताया गया है इस post में आपके सारे questions के answer मिल जायंगे और आप भी खूबसूरत और कोमल तवचा पा सकेंगे.




आज के टाइम में कोन smart नहीं दिखना चाहता आपका रंग काला  है या गोरा है. तो आपके अन्दर एक negativity आ  जाती है  बहुत से लोग ये बी सोचने लग जाते है की हम काले है तो कोई हमे पसंद नहीं करेगा हम smart  नहीं लग सकते .. तो बहुत सारी बातें दिमाग में चलने लगती है. पर आप फिकर मत करिए हम यहाँ कुछ एसे foods बताने जा रहे है जो आपको नहीं खाने है सान्वालेपन से बचने के लिए.

  •  अगर आप मीठा खाने के शौक़ीन है तो आपने मीठी चीज़ avoid करनी है मीठा बिलकुल भी नही खाना है इससे blood sugar level बढता है जिससे skin के tissue जैसे conical damage होने लगते है जिससे संवालापन बढता है.
  • white bread:-  इससे insulin ला level बढता है और skin में oil का production जादा होने लगता है और संव्लापन बढता है इसलिए आपने bread को avoid करना है.
  • spicy food इससे body का temperature बढता है. सांवलापन बढता है.
  • see food .




बाजार की cream में ब्लीच होता है  जो उतने ही समय के लिए गोरा दिखाती  है  जितने समय तक उसे लगाते है थोड़े समय के लिए ही . अगर हमे अपनी skin को अच्छा रखना है healthy रखना है तो यहाँ आपको कुछ घरेलु टिप्स बताय गाय है जिनकी मदद से आप अपने चेहरे को गोरा और सुन्दर बना सकते है. चमकती त्वचा के लिए कई natural beauty Tips हैं जो त्वचा को साफ करने और फिर से जीवंत करने में भी मदद करती हैं। यहां, हम उस चमकदार त्वचा को पाने के लिए आपके लिए Top tips list बता रहे है।

  • सबसे पहली बात जितना हो सके पानी पीजिये जादा पानी पीने से चेहरे पे चमक आती है और ये एक आजमाया हुआ नुश्खा है.
  • आंवले का मुर्रब्बा रोज खाने से दो तीन महीने में ही रंग निखारने लगता है 
  • कच्चे आलू को काट कर चेहरे पर मले फिर थोड़ी देर बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें ऐसा करने से चेहरे के सारे दाग धब्बे साफ़ हो जाते है और आपकी त्वचा निखर जायगी.
  • चेहरे पर दही का मास्क लगा लें और सूखने के बाद दूध से धो लें दूध और दही चेहरे को गोरा बनाकर कुदरती निखार लाते है.      



  • पेट को हमेशा साफ़ रखे कब्ज ना रहने दें और 1 बाल्टी गुनगुने पानी में निम्बू का रास मिलाकर  कुछ महीने नहाने से त्वचा का रंग निखरने लगता है.
  • पका हुआ केला और कच्चे दूध को मिलकर लेप बना लें और इसको 15 min. तक लगा रहने दें ये लेप रूखी त्वचा को एक दम तरोताजा और आकर्षक बना देता है.
  • टमाटर भी हमारी त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है टमाटर का टुकड़ा काट कर अपने चेहरे पर हलके हाथ से massage करें चेहरे की  सारी गन्दगी साफ़ हो जायगी और त्वचा  भी चमकने लगेगी.
  • सुबह नहाने से पहले एक निम्बू काट कर अपने चेहरे,गर्दन,बाहों और कोहनियों पर अच्छी तरह से रगड़ लें और फिर 10 min. बाद नहा लें इससे भी आपकी त्वचा का रंग निखारने लगेगा.
  • गाजर का juice आधा glass सुबह खाली पेट लेने से एक महीने में रंग निखरने लगता है.
  • शहद चेहरे की झुर्रियां मिटाने में बहुत मददगार है ये रूखी त्वचा को मुलायम कर रेशमी और चमकदार बनाता है. चेहरे पर शहद की एक पतली परत चढ़ा लें इसे 15-20 min. तक लगा रहने दें और फिर इसे पोंछ लें.
  • oily skin वाले लोग शहद में 4-5 बूँद निम्बू का रस डालकर use कर सकते है इससे आपकी त्वचा का रंग निखारने लगेगा.
  • खूबसूरत की इच्छा रखने वाले चाय कोफ़ी का सेवन कम से कम ही करें.
  • बर्फ के कुछ टुकड़े लेकर चेहरे के दाग धब्बो पर रगड़े  इसे daily करने से जल्द ही चेहरे के दाग धब्बे गायब हो जायंगे.



  • अलोवेरा juice भी हमारी skin के लिए बहुत ही  अच्छा माना जाता है.
  • अगर आपके चेहरे पर मुहासे के दाग हो गय है तो प्रतिदिन अलोवेरा का juice अपने चेहरे पर लगाय ये भी एक आजमाया हुआ नुश्खा है.
  • पपीते में enzymes होते है जो की चेहरे के दाग को कम करते है इसके लिए पके हुए पपीते का उपयोग करें पपीते का गुदा निकालकर 15 min. तक अपने चेहरे पर लगाकर रखे और फिर ठन्डे पानी से धो लें इससे  आपका चेहरा दाग से रहित हो जायगा.
  • अगर आप अपनी आँखों के नीचे काले गढ्डे से परेशान है तो एक भाग  निम्बू के रस में 4 भाग पानी मिलाकर मालिश करते हुए चेहरे को धोएँ थोड़े दिनों में ये परेशानी भी दूर जोने लग जायगी.
  • थोड़े से आम के छिलकों को दूध के साथ पीस कर paste बना लें फिर इसे चेहरे और  गर्दन पर 15 min. तक लगाने के बाद पानी से धो लें.
  • खीरे का रस भी हमारे चेहरे के लिए बहुत उपयोगी होता है खीरे को पीस कर अपने चेहरे पर लगा लें और 15 min. सूखने के लिए छोड़ दें सूखने के बाद ठण्ड पानी से चेहरे को साफ़ कर लें इससे आपकी तवचा साफ़ और सुन्दर दिखने लगेगी.
  • toothpaste रात को चेहरे के मुहांसों पर लगाने से वो उनको ठंडा करके सुखा देता है तो अगर आप  मुहांसों से परेशान है तो इस नुस्खे को आजमाइये.
टमाटर में बहुत सी ऐसी काफी प्रॉपर्टीज होती है जो आपके face की skin को बहुत ही मुलायम बानाने में और चेहरे का कालापन दूर करने में बहुत  हेल्प करती है ये आपके face को इतना गोरा और सुन्दर बना देगी की आपकी skin चमकने लगेगी और बहुत सुन्दर दिखने लगेगी.
तो इसके लिए आपको एक टमाटर लेना है और उसका रस निकल लेना है अब हमने इसमें add करना है निम्बू और निम्बू में vitamin B और c प्रचुर मात्रा में पाय जाते है और आपके चेहरे के कालेपन को दूर करता है साथ ही आपके  चेहरे के darkness और दाग धब्बो को दूर करता है 4-5 निम्बू की  drops इसमें add करिये और अब अच्छे से mix करिए. अब आप cotton की हेल्प से अपने face पे हलके हाथों से apply करिये. आपको पहली बार में ही काफी हद  तक अच्छे results देखने को मिल सकते है और अगर आप इसका use daily करते है तो काफी हद  तक आपके face का कालापन दूर होने लग जायगा और 25-30 min. ही आपको अपने face पे रखना है  उसके बाद गुनगुने पानी से धो लेना है.
  •  इस बात का ध्यान रखना है की आप अपने चेहरे को अच्छे  से धोने के बाद face पे गुलाबजल लगा लीजिये जिससे ये आपके चेहरे पर बहुत तेजी से effect डालेगा और आपके चेहरे का कालापन दूर हो जायगा.

त्वचा की समस्या के सामान्य कारण:

सुंदरता की परिभाषा अभी तक त्वचा से परे है, हमारी त्वचा इस सुंदरता के सबसे दृश्यमान(visible)अभिव्यक्तियों में से एक है।

  • आयु
  • तनाव
  • जैसे Unhealthy lifestyle practices
  •  धूम्रपान
  •  शराब
  •  मादक पदार्थों की लत
  •  गलत भोजन की आदतें
  • शरीर में हार्मोनल परिवर्तन
  • Improper digestion

 त्वचा के घरेलू उपचार

सौंदर्य संरक्षण के लिए आयुर्वेद के कई रहस्य हैं। आयुर्वेदिक स्क्रब्स या us ton धीरे-धीरे त्वचा को पोषण देते हैं और इसे बेहतर सांस लेने में मदद करते हैं। इससे भी बेहतर यह है कि आप अपने रसोईघर में सामग्री पा सकते हैं।       



घर पर इस सौंदर्य पैक बनाओ:

सामग्री:

चम्मच आटा (बेसन) - 2 बड़ा चम्मच
सैंडलवुड पाउडर
हल्दी पाउडर - ½ छोटा चम्मच
कैंपोर - एक चुटकी
सादा पानी / दूध / गुलाब का पानी
तैयारी:

एक मोटी पेस्ट बनाने के लिए चम्मच आटा (बेसन), चंदन के पाउडर, कपूर, और हल्दी पाउडर, दूध या गुलाब के पानी को मिलाकर समान रूप से अपने चेहरे पर लागू करें। इसे 20 मिनट तक छोड़ दें और पानी से धो लें। आप इसे ठंडा गुलाब के पानी में दो Cotton swabs डुबकी और उन्हें आंखों पर रखकर एक और अधिक कायाकल्प(Rejuvenation) अनुभव कर सकते हैं। 20 मिनट के बाद आपको चमकती और सुन्दर चमकदार त्वचा देखने को मिलेगी.

उम्र बढना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है लेकिन उम्र बदने के प्रभाव का असर चेहरे पर साफ़ नज़र आता है और ये काफी पफ्रेशान करने वाला भी होता है. तो बढती उम्र के लिए और चेहरे को खूबसूरत बनाने के लिए जानिये कुछ yoga जो बढती उम्र के असर आपके चेहरे को बेहद कम कर देंगे.

बंद मुह पोज़ योगा :-
इस योग में मुह से हवा भर कर करीब 10 sec. चेहरे को एसे ही रहने दें और सांस को रोक कर रखे 10 sec. बाद मुह के अन्दर भरी हुई हवा को दायं-बायं 5-5 बार घुमाय. इस योग को daily करने से चेहरे पर चर्बी जमा नहीं हो पाती चेहरे से मुहासों की समस्या दूर होती है चेहरे में खून का संचार ठीक से होता है और जबड़ो की हड्डियाँ भी मजबूत होती है.
fish face exercise :- इसे करने के लिए दोनों तरफ के गालों को अन्दर की ओर खींचे और 10 sec. तक इसी position में रहे इस exercise को 10 बार करे इससे गालों पर जमा fat काफी कम हो जाता है और ये wrinkles को भी रोकता है और साथ ही इस exercise को करने से चेहरे की माश्पेशियों में भी कसावट आती है.
lion pose:- इस को करने के लिए अपनी पूरी ताकत से जीभ बाहर निकालें और अपनी आँखों को तान लें जिस तरह शेर करता है बिलकुल वेसे ही  इस position में कम से कम 20 sec. जरुर रुके  इस pose को करने से आपके चेहरे की तवचा में कसावट अति है और चेहरे की extra चर्बी भी बेहद घट जाती है.
बुद्धा pose :- इस pose में अपनी दोनों आँखों को बंद करके बैठ जाय और दोनों eyebrows के बीच ध्यान लगाय 30 sec. तक इसी position में रहे ये मैडिटेशन की तरह आपको पूरा सुकून देगा 30 sec. बाद अपनी पूर्व अवस्था में आ जाय.


अगर आप अपने face को गोरा करने के  लिए cream बनाना चाहते है तो आप पढने के लिए लिंक पे क्लिक करे

दोस्तों हमारा लक्ष्य सिर्फ और सिर्फ रोग मुक्त भारत बनाना है हम चाहते है की अधिक से अधिक लोगो तक हेल्थ की जानकारी पहुचे 
इसके लिए आप हमारा सहयोग करे,खुद पढ़े और दुसरो को पढाये.आप हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते है इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज
या फिर अगर आप फ़ोन से ये जानकारी पढ़ रहे है तो सब से निचे फेसबुक लाइक करने का बटन है अगर आप कंप्यूटर से पढ़ रहे है तो साइड मे आप को फेसबुक लाइक 
का बटन दिख जायेगा.

प्यार की 4 दर्द भरी कहानिया sad love story in Hindi

- No comments
इस पोस्ट में आप को 4 sad story in hindi में दी गयी है.अगर आप खोज रहे है small sad love story in hindi और heart touching short love stories in hindi या फिर very sad love story in hindi तो इस पोस्ट में आप को सब कुछ मिलेगा.इस पोस्ट में आप को 4 दुःख -भरी प्यार की कहानिया दी गयी है.

Sad Love Story-1 मेरा पहला प्यार 


ये तब की बात है जब मै कॉलेज जाया करती थी.और मुझे एक लड़के से प्यार हो गया था .मै बहुत खुस थी.मै इंजीनियरिंग की स्टूडेंट थी और उस समय मै फाइनल साल में थी.उसका नाम रोहित था .वो  मुझे 2  साल से लाइक करता था .पर वो बहुत डरता था लडकियों से बात करने में  और उसने ऐसे ही 2 साल निकाल दिये .अपने दिल की बात दिल में रखी उसने कभी मुझे बताया नहीं.लेकिन मुझे पता चल गया था शुरू में ही की वो मुझे
लाइक करता है क्यों की वो रोज मेरी क्लास में आ के मुझे देखता था ऐसा करते -2 उसने 2 साल बिता दिये,इसलिये मैंने एक दिन सोचा ये तो कुछ बोलता नहीं है ,बस देखता है क्यों ना मै ही इस से बात कर लू.
मैंने उस से पूछ लिया की "जब भी तुम मेरी क्लास में आते हो तो मुझे क्यों देखते रहते हो ?"
उसने कहा की "मै तो नहीं देखता" और वो क्लास से चला गया .उसके बाद 15-20 दिन हो गये वो मेरी क्लास में नहीं आया.
मुझे पता नहीं क्या हो गया था ,मुझे उसकी याद आ रही थी ,रोज क्लास के दरवाजे पे उसका इंतजार करती थी .
फिर मैंने एक दिन उसके दोस्त से पूछ लिया "तेरा दोस्त क्यों नहीं आता "

उसने कहा "मुझे नहीं पता है"
उसके 4-5 दिन बाद वो मेरी क्लास में आया और मुझे उसने डायरेक्ट प्रोपोस कर दिया मै अचानक से चौक गयी थी उसने मुझसे बोला हाँ या फिर ना.
मैंने हाँ बोल दिया उस वक़त क्लास में और कोई नहीं था .सिर्फ मै और वो थे .फिर क्लास जाने का टाइम हो गया था वो अपनी क्लास में चला गया उसके बाद लंच में आया और मेरा नंबर लिया  और बोला शाम को कॉल करूँगा मैंने कहा ठीक है.फिर शाम को उसकी कॉल आयी और हमने 30-35 मिनट बात की.

अगले दिन फिर हमने रात को बात की.अब हम दोनों कॉलेज में साथ में लंच करते और साथ में आते -जाते.
ऐसे ही 4 महीने निकल गये और हमारे एग्जाम आ गये थे और हमने अपने पेपर दिये.
अब कॉलेज की छुट्टी हो गयी थी फिर हमारा मिलना बंद हो गया था क्यों की पहले हम कॉलेज में मिल लेते थे
और उसके बाद तो कभी -कभी ही मिल पाते थे ,बस कॉल पे बात हो जाती थी.और फिर एक दिन मैंने उसको कॉल किया उसने मेरा कॉल नहीं उठाया.
मैंने उसके अगले दिन भी कॉल किया लेकिन उसका फ़ोन स्विच ऑफ हो गया था .मै बहुत परेशान हो गयी थी और फिर ऐसे ही एक महीना बीत गया था .फिर एक दिन मुझे उसका दोस्त मिला जो मेरी क्लास में थे .मैंने उस से पूछा उसके बारे कुछ पता है.

तब उसके दोस्त ने कहा उसकी रोड एक्सीडेंट में मौत हो गयी ,मै जोर-जोर से वही रोने लगी .उसके दोस्त ने मुझे समझाया और मुझे मेरे घर छोड़ के गया .मै घर में आते ही अपने कमरे में गयी और दरवाजा बंद कर के खूब रोयी.मैंने 2 दिन तक कुछ नहीं खाया मेरी माँ बहुत परेशान हो गयी थी इस बात से .तब मेरी माँ ने मुझे बहुत समझाया और फिर मेरी 2 साल बाद शादी हो गयी और अभी मेरा 1 बच्चा है जिसका नाम मैंने उसके नाम से ही रोहित रखा है .
तो ये था मेरा पहला प्यार जो मुझे नहीं मिला

Sad Love Story-2 वो बेवफा निकला 

मै जब 12th क्लास में थी तब मुझे एक लड़के से प्यार हो गया था .वो  लड़का हमारे स्कूल से नहीं था वो गाँव से था .

उसका नाम रोशन था .मै स्कूल से जब भी घर आती या फिर जाती थी वो रोज मेरा पीछा करता था और मेरे घर तक आता था .वो 1 महीने से रोज आता था  लेकिन मै उसको देख कर  अनदेखा कर देती थी क्यों की मुझे लडको से नफरत थी मुझे लगता था सारे लड़के बस टाइम -पास करते है .
ऐसे ही कई दिन तक चलता रहा और एक दिन उसने रास्ते में मुझे रोक के प्रोपोस कर दिया उस समय मैंने उसे अनदेखा कर दिया वैसे वो दिखने में स्मार्ट था लेकिन मैंने उसकी तरफ ध्यान नहीं दिया .उसने फिर मेरी एक दोस्त से मदद ली और कहा की वो उसकी बात करवा दे मुझसे .तब मेरी दोस्त ने कहा की "वो लडको से नफरत करती है "
मेरी दोस्त मुझे सारी बात बता दिया करती थी वो जो भी मेरे बारे में उस से बात करता था .एक दिन मेरे पास फेसबुक पे एक रिक्वेस्ट आयी और मुझे नहीं पता था की वो id उसकी है.फिर उसका मेसेज आया और मुझे बिलकुल नहीं पता था की वो id उसकी है ,नहीं तो मै उसी टाइम उसको ब्लाक कर देती .मैंने उस से कुछ बातें की वो बहतु अच्छी बातें करता था .10-15 दिन बाद उसने मुझे मिलने के लिए बोला और मैंने उसको माना कर दिया .लेकिन वो बहुत जिद करने लगा तो मैंने उसकी बात मान ली .उसने मुझे एक कॉफ़ी शॉप पे बुलाया और जब मै वह गयी तो देखा ये तो वही लड़का है जो मेरे पीछे आता था .फिर वो मेरे पास आया और मुझसे माफ़ी मागी जो उसने इतना बड़ा झूट बोल के मुझे मिलने के लिए बुलाया .एक टाइम मुझे उस पे बहुत गुस्सा आया और मेरा मन हुआ अभी इसको2-4 थप्पड़ दे दू.लेकिन जब वो फेसबुक पर बात करता था कितना अच्छे से करता  था इसलिये रुक गयी.


मुझे लगा शायद ये अच्छा लड़का है.उसने फिर से मुझे वही प्रोपोस किया इस बार मै मना नहीं कर पाई मेरे दिल में उसके लिए जगह बन गयी की ये लड़का मुझसे कितना प्यार करता है मुझे पाने के लिए कितना मेहनत कर रहा है  और मैंने हाँ कर दिया .
फिर उसने रोते हुए मुझे गले लगा लिया  उसको रोता देख मै भी सेंटी हो गयी .
मैंने कहा अब क्यों रो रहे हो?
तब उसने कहा "यार तुमको बहुत प्यार करता हु इसलिये आंसू आ गये "
फिर मैंने कहा "अब तुम्हरी हो गयी अब खुस हो जाओ."
हमारा प्यार ऐसे ही चल रहा था वो मेरा बहुत ध्यान रखता था मै जब भी रोती थी ,तो उसके आँखों से भी आंसू आते थे .मै उस से बहुत प्यार करने लगी थी.हम 3 साल तक साथ रहे और कॉलेज के लास्ट साल में थे तब  उसने मुझे धोका दे दिया लास्ट साल में मेरी एक दोस्त ने बताया की उसने मेरे बॉय फ्रेंड को किसी और लड़की के साथ देखा है
मैंने गुस्से में कहा "कुछ बोलती है सोच समझ कर बोला कर "
तब उसने कहा चल मेरे साथ पार्क में दिखाती हु तुझे मै बहुत परेशान हो गयी थी .मेरी दोस्त ने मुझे फ़ोन कर के बताया था .

मै उस पार्क में गयी और मैंने देखा की वो किसी लड़की के साथ बैठा और उसे किस कर रहा है.मै बहुत गुस्से में थी मैंने उसे 1 जोरदार थप्पड़ मारा और उस लड़की को पूरी कहानी बता दी.मै पूरी तरह से टूट गयी थी बहुत दिन दिन तक मै घर से बाहर नहीं निकली .लेकिन अब मै खुस हु क्यों की  मुझे टाइम रहते पता चल गया मैंने उस से फिर कभी बात नहीं की.
ये था मेरा पहला और अधुरा प्यार
                        Sad Love Story-3 मेरा स्कूल का प्यार 
मै क्लास 9th में थी तब मै क्लास की टोपर थी .एक लड़का था मेरी क्लास में उसका नाम आशीष था ,और वो बॉयज में टोपर था .हम दोनों में मुकाबला होता था की कौन जादा नंबर लायेगा टेस्ट में.वो हर बार मुझसे हार जाता था .वो इस से  बहुत ही नाराज़  हो जाता था .इसलिये उसने मुझसे बदला लेने की सोची .मुझे कुछ नहीं पता था की वो मेरे साथ क्या करेगा .

राज ने एक दिन आ के मेरे एक पेज पे "i love you" लिख दिया और बोला अब तुम भी अपना
जवाब दे देना 2-3 दिन में .वो दिखने में सही था और पढने में अच्छा था यही सब सोच के मैंने उसको हाँ बोल दिया .
फिर वो और हम डेली बातें करने लगे .कभी-कभी रात में 3-4 बजे तक बातें करते थे .मै इसको बहुत प्यार करती थी.पर वो सिर्फ नाटक कर रहा था मेरे से प्यार करने का फिर ऐसा 8-9 महीने चला और हमारे एग्जाम आ गये और एक दिन उसने मुझे अकेले में मिलने के लिए बुलाया .

मै अकेली गयी मुझे उस पर भरोसा था की वो कुछ गलत नहीं करेगा.उसके बाद मै जब उसके पास गयी तो उसने मुझे हग किया और मुझे कोल्ड ड्रिंक दी पिने को .फिर पता नहीं क्या हुआ ?मुझे हल्का -हल्का चक्कर आने लगा और मै अपने कंट्रोल से बाहर हो गयी ,कुछ जादा होश नहीं रहा और उसने वो सब कर लिया जो इतने दिन से करने की कोशिस कर रहा था .

फिर कुछ देर बाद बोला "मैंने तुमसे बदला लिया है".  मैंने सोचा की वो मजाक कर रहा है .
तो वो बोला "मै तुझसे प्यार नहीं करता हु तुमसे बहुत चिडता हु ,ये सब बस तुझसे बदला लेने के लिए किया "
ये सब सुनते ही मै रोने लगी .फिर मै अपने दोस्त के घर गयी और उसने मुझे बहुत समझाया की जो होना था हो गया अब अपने आप को संभाल और रोना बंद कर.
लेकिन मेरे आंसू नहीं रुक रहे थे क्यों की मै उस से बहुत प्यार करती थी .फिर एग्जाम आ गये और हमने
पेपर दिये .15 दिन बाद रिजल्ट आ गया मै बहुत खुस थी क्यों की मै फिर से क्लास की टोपर थी .अब मुझे उस आशीष से बदला लेना था .मेरी दोस्त बोली आज इस आशीष को सबक सिखाते है
और उसने कहा की इसको अपने bf से इसको पिटवाती हु.मैंने भी हाँ कर दिया .
फिर मेरी दोस्त के bf ने उसको स्कूल के बाहर पीटा और मैंने खड़े हो के उसको पिटते देखा.मुझे बहुत सुकीन मिला.
इस तरह मेरा पहला प्यार नकाम रहा.
                         Sad Love Story-4 एक जिद 
एक लड़का था जो एक लड़की से प्यार करता था ,काफी जिद्दी था.
लड़की उस से प्यार नहीं करती थी वो हर बार लड़की के पास जाता और उस से बोलता "मै तुमसे प्यार करता हु हाँ क्यों नहीं बोल देती मुझे अपना bf बना lo"
गर्ल:मै इतनी बार कह चुकी हो ,मै तुमसे प्यार नहीं करती हु,अब मुझे परेशान मत करो
लड़का:पर मेरे अन्दर खराबी क्या है ,ये तो बता दो मुझसे प्यार क्यों नहीं करती हो.
लड़की:तुम्हारे साथ कोई फीलिंग नहीं होती है प्यार जैसी,और तू मुझे हर -बार सब के सामने रोक के
प्रोपोस करता है मुझे अच्छा नहीं लगता है.
लड़का: तो  तुम हाँ बोल दो ना

लड़की वहा से चली जाती है ,लड़का उसको रोज सब के सामने प्रोपोस करता ,लड़की को ये
सब अच्छा नहीं लगता.वो लड़का बहुत पैसे वाला था और उसके पापा का फुल सपोर्ट था .
लड़की ने परेशान हो कर एक दिन पुलिस में उसकी रिपोर्ट लिखवा दी.पुलिस उसे ठाणे ले गयी  लेकिन उसके बाप ने उसे तुरंत छुडवा लिया और पुलिस ने लड़के को एक वार्निंग दे कर छोड़ दिया .

लड़का फिर से लड़की के पास गया और उसके साथ बहुत ही जादा बतमीजी करने लगा .लड़के ने लड़की के साथ ऐसी हरकत करी की कोई भी लड़की शर्म से अपना सर झुका ले .लड़की ने गुस्से में उसे एक थप्पड़ जड़ दिया और वहा से चली गयी .
उसके अगले दिन लड़की की फैमिली ने लड़के के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट लिखवा दी और इस बार ये
ये बात मीडिया तक पहुच गयी थी ,जिस वजह से लड़के का बाप भी इस बार उसे छुड़ा नहीं पाया .लड़का
कुछ दिन जेल में रहा.

जब सब कुछ ठीक हो गया तब उसके पापा ने उसे छुडवा लिया .लड़का उस लड़की के घर गया और सब से माफ़ी मांगी और बोला अब वो ऐसी गलती नहीं करेगा ,अब कभी आप की बेटी को परेशान नहीं करेगा .लड़की के फैमिली ने सोचा अब लड़का अपनी गलती समझ गया है हमे उसको माफ़ कर देना चाहयिए.
लड़के ने पूछा "अंकल जी क्या मै आप का बाथरूम इस्तेमाल कर सकता हु "
लड़की के पापा ने बोला "हाँ बेटा कर सकते हो "
लड़का बाथरूम में गया और वहा पे छोटा सा कैमरा लगा दिया .लड़के को पता था घर में एक ही बाथरूम
वो लड़की आयेगी जरुर.दुसरे दिन लड़की कॉलेज जाती है और लड़का उसको मिलता है ,उसने लड़की को कुछ फोटो दिखाई  जिसमे वो बिना कपड़ो के थी और एक विडियो भी थी जिसमे वो नहा रही थी  .लड़की ये सब देख कर चौक गयी और रोने लगी .
लड़की :ये सब क्या है और तुम तो सुधर गये थे
लड़का:तेरी औकात दिखाने के लिए मुझे थोडा झुकना पड़ा ,अब जो मै बोलूँगा वो तू करेगी नहीं तो ये सब नेट पे डाल दूंगा.
लड़की :प्लीज ऐसा मत करना ,नहीं तो सब खत्म हो जायेगा
लड़का :तो जो मै बोलूँगा तू करेगी

लड़की ने उसके सामने बहुत हाथ जोड़े-रिक्वेस्ट की लेकिन वो नहीं माना,लड़की को आखिर में उसकी बात माननी पड़ी .
लड़के ने कुछ हफ्ते उसका पूरा फायदा उठाया,और जब उसका मन भर गया तो उसने फोटो और विडियो वायरल
कर दी इन्टरनेट पे.वो लड़की रोने लगी थी बहुत  जोर-जोर से वो पूरी तरह से टूट चुकी थी .
                                      
लड़की के घर पे पता चल चूका था ,लड़की का घर पूरी तरह से टूट गया था ,लड़की के पापा को हार्ट अटैक
आ गया और हॉस्पिटल में एडमिट हो गये.
लड़की के फैमिली में से जो भी बाहर जाता लोग उसके ऊपर गंदे-गंदे कमेंट करते थे .लड़की ने कॉलेज जाना बंद
कर दिया ,लड़की ने घर से निकलना भी बंद कर दिया कुछ दिन ऐसे ही चलता रहा.
एक दिन लड़की ने सोचा उसकी क्या गलती है जो उसके साथ ये सब हो रहा है ,सजा तो उस लड़के को मिलना चाहयिए जिसने ये सब किया और वो मजे में घूम रहा है .लड़की उस लड़के के पास गयी और बोली
लड़की:तुमने मुझसे जो कहा मैंने किया ,मेरे जिस्म के साथ इतने दिन खेलते रहे. लेकिन फिर भी तुमने ये काम किया
लड़का:मैंने तेरे साथ पुरे मजे किये,अब थोड़े मजे  लोगो को भी लेने दो,तुमने जिस  दिन मुझे थप्पड़ मारा था
उसी दिन सोच लिया था तुम्हरा वो हाल करूँगा जो देख कर हर लड़की अपनी औकात याद रखेगी.


लड़की ,लड़के के और करीब आयी और उसे चाकू मार  दिया,और लड़के से बोली जो तूने मेरे साथ किया है ,अब किसी और के साथ नहीं कर पायेगा ,और तेरा  ये अंजाम देख कर लडको को भी उनकी औकात पता चल जाएगी ,तुझे तो पहले ही मार देना चाहयिए था .
लड़की को पुलिस पकड़ के ले गयी और फिर लड़की ने कोर्ट में सारी बात बतायी.लड़की को कोर्ट ने थोड़ी कम सजा दी और विडियो और फोटो को नेट से हटाने का आदेश दिया .
लड़की 3 साल की सजा के बाद छूट गयी और आज  अच्छी लाइफ जी रही है.
लड़के ने अपनी एक जिद कारण,एक लड़की की लाइफ बर्बाद कर दी,इसमें लड़की की क्या गलती थी उसने तो बस मना किया था की वो उस से प्यार नहीं करती है .उसे प्यार ना करने का हक है आप जबरजस्ती किसी से प्यार नहीं करवा सकते है .
इन स्टोरी पे आप अपनी राय कमेन्ट कर के दे.
आप ऐसे ही और कहानियो के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते थे इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज लाइक
इस तरह की और कहानिया

गैस का इलाज pet me gas

- No comments
अगर आप परेशान है आपके पेट में बार-बार gas बनती है तो gas ki problem ka ilaj in hindi और gas ki dawa या फिर pet ki gas ka gharelu upchar in hindi और gas ka ilaj in hindi इस पोस्ट के द्वारा आपको सब कुछ मिल जायगा और अगर आप जाना चाहते है pet ke liye yoga in hindi या pet me gas ka gharelu ilaj in hindi तो आप सही जगह पर है आपको इस post में पेट में gas की परेशानी से जुडी सभी समस्या का हल मिल जायगा.
भागदौड़ भरी इस जिंदगी में शायद ही कोई व्यक्ति हो जिसे पेट के गैस की परेशानी हा अनुभव न हुआ हो यह एक ऐसी बीमारी है जो बहुत आसानी से जकड़ लेती है और बहुत परेशान भी करती है.
पेट में जरुरत से जादा gas बनाना आपको परेशानी और शर्मिंदगी दे सकता है. ख़ास कर तब... जब आप किसी meeting में हो या क्लास में या फिर किसी के साथ जादा gas बनना एक बहुत ही साधारण सी समस्या है जो कई कारणों से हो सकती है. दिन में 10 से 12 बार gas पास करना आम बात है लेकिन इससे जादा बार होने का मतलब है की आपके पेट में कुछ गरबड़ी हो रही है जिसके कारण जरूरत से जादा gas बन रही है. पेट में वैसे  तो गैस हर किसी को बनती है पर जिनका पाचन ख़राब है या फिर जिन्हें acidity या कब्ज रहती है उन्हें gas की शिकायत जादा होती है अगर पेट में लम्बे समय तक gas रहे तो उन लोगो को अफारा महसूस होना पेट में भारीपन होना अल्सर और बवासीर जैसी कई प्रकार की बीमारियाँ होने की आशंका बड जातीं है.


पेट के गैस की समस्या के कारण :-

हवा का निगलना- हवा के निगलने को medical language में एरोफेगिया कहते है हम खाते और पीते  वक्त हवा को ग्रहण कर लेते है और जब हम जरूरत से जादा हवा अन्दर ले लेते है तो इसमें से कुछ हवा डकार के रूप में आ जाती है और बची हुई हवा gas के रूप में पेट में रह जाती है. भोजन को जल्दी-जल्दी खाने , स्ट्रॉ से पीना, शराब का सेवन, भोजन करते समय बोलना, भोजन को अच्छे से न चबाना, chewing gum चाबाना, जरुरत से जादा खाना खा लेना, स्मोकिंग करना  आदि कुछ कारण है जिनसे पेट में gas बनती है. जैसे diabetes की दवाइयां और कुछ antibiotic का इस्तेमाल भी gas बनने का कारण हो सकता है आदि.



  •  शराब, बियर, और धुम्रपान, गुटखा जैसी चीजों का सेवन करने से.
  • उम्र दराज लोगो को gas की problem होती है.
  • कुछ medical condition भी पेट में gas होने की वजह होती है.
  • चाय कॉफ़ी पेट में gas बनने का प्रमुख कारण है.
  • तला हुआ और अधिक मसालेदार चीज़े खाने, junk food खाने से भी पेट में gas बनती है.
  • जल्दी-जल्दी खाना-खाने से gas की problem हो जाती है.
  • अधिक समय तक खाली पेट रहने से gas और acidity होने लगती है.
  • फूल गोभी, भारी दालें, सफ़ेद चने, राजमा, उड़द की दाल और देर से पचने वाला चीजों के सेवन से gas की परेशानी हो जाती है.
  • कुछ लोगो को दूध पीने से, भोजन के साथ cold drink पीने से और भूख से जादा खाना खाने से भी gas बनती है.


पेट की gas के लक्षण :-


  • भूख कम लगना
  • पेट में जलन होना
  • खाना हजम न होना
  • पेट दर्द करना
  • जी मचलना
  • उलटी होना
  • पेट ठीक से साफ़ न होना
  •  पेट के दाय-बाय या उपर-नीचे दर्द रहना
  • पेट भरी-भरी रहना
  • chest में pain होना
  • पेट में मरोड़ उठना



  • बदहजमी
  • नाभि सरकना
  • कब्ज होना
  • दस्त लगना
  • बार-बार gas निकलना
  • थकावट
  • सर में दर्द
  • कुछ लोगो को चक्कर आने की भी शिकायत रहती है
  • पेट में सूजन
  • मानसिक तनाव
  • मुह से बदबू आना
  • सांस लेनी में परेशानी
  • सांस फूलना
  • बार-बार डकार आना आदि


पेट gas के घरेलु नुस्खे :-


  • खाने में अजवाइन का प्रयोग जादा करें इससे पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है और gas से राहत मिलती है.
  • लहसुन की 2-3 कलियाँ लीजिये और इसे बारीक काट लीजिये. अब थोडा सा निम्बू का रस और थोडा सा कला नमक लहसुन की कलियों पर डाल कर सुबह-सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ निगल जाएं. इस नुश्खे से gas में तो राहत मिलती ही मिलती है साथ ही साथ cholesterol के इलाज में भी मदद मिलती है. गर्मी के दिनों में लहसुन की 1-2 कलियाँ ही लें.
  • खाना खाने के बाद एक इलाइची और एक लोंग लेने से gas और acidity दूर रहती है.
  • हिंग, कला नमक और अदरक हिंग में gas दूर करने वाले गुण पाय जाते है अदरक पाचन को बेहतर करता है और gas  से राहत दिलाती है.
  • आपको 2 चुटकी अदरक powder और 1 चुटकी काला नमक और 1 चुटकी हिंग का powder लेना है और 1 cup गुनगुने पानी में मिलाकर पी लेना है.
  • अलोवेरा juice त्रिफला powder के साथ लेने से पेट gas दूर होती है.
  • बिना दूध वाली निम्बू की चाय पीने से भी पेट से`आराम मिलता है. निम्बू की चाय में थोड़ा काला नमक भी डाल सकते है.
  • थोडा सा कला नमक एक glass गुनगुने पानी में मलाकर पीने से भी पेट से जुडी परेशानियों में भी जल्दी फ़ायदा मिलता है.
  • नीम्बू, अजवाइन, काला नमक और छोटी हरड़ एक सामान मात्रा में पीस कर भोजन के बाद 2-5 ग्राम की मात्रा में गुनगुने पानी के साथ ले. इसे लेने से पाचन ठीक होता है और पेट से जुड़ी समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है.
  • थोड़ा सेंधा नमक और 2 छोटे चम्मच निम्बू का रस हलके गरम पानी में मिलाकर पिने से भी पेट की gas का इलाज कर सकते है.
  • आधा चम्मच दालचीनी लें और पानी में उबाल लें. ठंडा होने पर इसमें 1/2 चम्मच शहद मिलाये और सुबह खाली पेट इसे पी लें ऐसा करने से भी पेट की gas की problem दूर होती है.
  • मेथी के बीज और पानी से बनाया हुआ काढा पेट gas को काफी कम करता है.


पेट के gas का रामबाण इलाज:-

लहसुन का सूप- पाचन को अच्छा करता है और gas की शिकायतें जैसे पेट में मरोड़ उठाना, पेट में भारीपन, भूक न लगना आदि. को भी ठीक करता है.
soup बनाने की विधि:- 1 चम्मच पिसे हुए लहसुन के paste को 1 glass पानी में डालना है अब इस पानी में थोड़ी सी काली मिर्च और थोडा सा धनिया powder डालना है 10 min. उबलने के बाद इस soup को दिन में  2 बार सुबह और शाम पीना है.

जीरे का पानी.
विधि :- जीरे का पानी बनाने के लिए जीरे को भूरा होने तक भून ले अब भूने  हुए जीरे में 2 cup पानी डाल दीजिये  और तब-तक उबालिए जब-तक ये पानी आधा ना रह जाय इस पानी को पीने से आपके पेट की सभी समस्यां दूर हो जायंगी.

अजवाइन का पानी :- अजवाइन के दाने gastritis, बदहजमी, acidity, gas, अपचन, पेट में दर्द सभी समस्याओं को दूर करने की छमता रखता है.
विधि :- अजवाइन को 1 cup पानी के साथ उबाले और हो सके तो इसमें एक चुटकी काला नमक और अदरक का powder भी मिला दें इस घोल को दिन में दो बार पीने से gas से मुक्ति मिलेगी.

भारत में अजवाइन को निम्बू के रस में भिगो  कर सुखा लिया जाता है और  इस निम्बू युक्त अजवाइन के 1 चम्मच से उलटी, gas,दर्द और मरोड़ की समस्या दूर हो जाती है.
विधि :- 1 चम्मच निम्बू युक्त अजवाइन में थोडा सा कला नमक मिलाकर दिन में दो बार लेना  है.



  • अदरक और निम्बू  अदरक के टुकड़े को निम्बू के रस और काला नामक के साथ भोजन के बाद खाने से gas नहीं बनती.
  • सुबह, दोपहर और रात को निम्बू पानी का सेवन बहुत ही फायदेमंद माना जाता है.
  • charcoal की थोड़ी सी मात्रा को गरम पानी के साथ लेने से भी gas की समस्या से तुरंत आराम मिलता है. charcoal आपकी आँतों से हानिकारक तत्वों को भी बाहर  करने मदद करता है और आप डॉ. से पूछ कर charcoal की गोली भी ले सकते हो.
  • अदरक का एक छोटा टुकड़ा ले और दातों से चबाये और एक glass गुनगुना पानी पिए या आप पानी में अदरक को उबाल कर ले इसका पानी भी पी सकते है.
  • सोंफ और मिश्री खाने से  पाचन अच्छा रहता है gas बनना रोका जा सकता है.
  • सुबह खली पेट तुलसी के पत्ते खाने से भी gas नहीं बनती.
  • गुड का एक छोट टुकड़ा खाना खाने के बाद खाने से gas नहीं होती और इस उपाय से पेट की आंते मजबूत रहती है.
  • अदरक और सोंफ की चाय पीने से भी आराम पा सकते है.
  • पाचनतंत्र सुधारने में जीरा का सेवन करना उत्तम है पेट gas की समस्या से जल्दी छुटकारा पाने के लिए ठन्डे पानी में एक चम्मच जीरा powder  घोल कर पिए.
  • पानी खूब पीजिए पानी पिने से gas को दूर करना और पाचन को मजबूत करने का सबसे अच्छा उपाय माना जाता है. पानी आपके भोजन को पचने में मदद करता है कब्ज को दूर करता है और पेट के सभी रोग दूर करने में मदद करता है.
  • आप खूब सारा पानी और पेय पदार्थ पीजिये और खाइए जिनसे आपको पानी मिलता हो जैसे खीर,तरबूज,टमाटर,गाजर, नारियल पानी, गाजर का पानी आदि.
  • green tea, peppermint tea और chamomile चाय पिने से भी काफी आराम मिल सकता है.
  • सोफ़ के दानो को दूध के साथ उबाल कर पीने  से भी काफी फायदा हो सकता है.
  • खाना एक दम से ना खाय अगर आप पाचन को अच्छा रखना चाहते है और gas बनने से रोकना चाहते है तो आप दिन 2 बार भर पेट भोजन खाने के स्थान पर दिन में चार बार थोडा-थोडा खाइए इससे आपका वजन भी control में रहेगा  और पेट की समस्सया भी नहीं रहेगी.



क्या नहीं करना चाहिए :-


  • खाना खाने के बाद एक दम से लेटना भी नहीं चाहिए थोड़ी देर टेहेलना चाहिए जिससे पाचन सही तरह से हो सके.
  • खाने खाने के तुरंत बाद पानी ना पियें 1 घंटे बाद ही पानी पियें.


पेट में gas को दूर करने के लिए योगासन भी होते है.

पवनमुक्त आसन
:- पेट के गस को दूर करने के लिए आप यह आसन कर सकते है.
लेकिन ये आसन उनलोगों को नहीं करना चाहिए जिन्हें high blood pressure, दिल की बीमारी, slip disc, Harniya, कुल्हे या पीठ में दर्द की शिकायत हो.
इस आसन को करने के लिए जमीन पर सीधा लेट जायं अपने दोनों हाथों से अपने दोनों  घुटने दबाकर आपने चेहरे की ओर लाने की कोशिश करें कुछ seconds के बाद relax करें और इस आसन को 3-4 बार दोहरायं.

जरुरी बातें :-

  • हमेशा अपने आप को active बनायं रखे घूमिये फिरिए खेलिए कूदिये घर के काम करिए  ऐसा करने से आपका पाचन अच्छा रहेगा और gas नहीं बनेगी.
  • उन पदार्थों को मत खाइए जिनसे आपके पेट में gas बन जाय.
  • भोजन को आराम से अच्छी तरह चबा चबा कर खाइए.
  • खाते पीते समय बोलिए मत.
  • भोजन करने के तुरंत बाद पानी बिलकुल भी मत पीजिये.
  • भोजन करने के तुरंत बाद सोइए मत.
  • भोजन से पहले सलाद जरूर खायं.
  • chewing gum, शराब, सोडा से परहेज करें 

दोस्तों हमारा लक्ष्य सिर्फ और सिर्फ रोग मुक्त भारत बनाना है हम चाहते है की अधिक से अधिक लोगो तक हेल्थ की जानकारी पहुचे 
इसके लिए आप हमारा सहयोग करे,खुद पढ़े और दुसरो को पढाये.आप हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते है इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज
या फिर अगर आप फ़ोन से ये जानकारी पढ़ रहे है तो सब से निचे फेसबुक लाइक करने का बटन है अगर आप कंप्यूटर से पढ़ रहे है तो साइड मे आप को फेसबुक लाइक 
का बटन दिख जायेगा.



Thursday, 28 June 2018

सीख देनी वाली 2 मजेदार कहानिया Hindi stories with moral values

- No comments
इस पोस्ट में आप लिए हम लाये है panchatantra short stories in hindi और best motivational story in hindi और very short story in hind.इस पोस्ट कहानिया दि गयी है जो आप को मोरल सीख देंगी.

कहानी-1 अपनी नियत हमेशा  साफ़ रखे



एक बार एक गाँव में  बहुत बड़ा अकाल पड़ा लोग भूखे मरने लगे उस गाँव से जुडे हुए नगर में एक बहुत ही
परोपकारी और दयालु सेठ रहता था.
गाँव वालो की मदद के लिए रोज रोटी बटवाता था.जब उस सेठ के नौकररोटी बाटते  तो रोज धक्का -मुक्की मच जाती.हर कोई पहले लेने की कोशिस करता और एक-दुसरे को धक्का देता.
सेठ अकसर देखता था की एक लड़की रोज चुपचाप कड़ी रहती है और सब से लास्ट में जाती.उसके हिस्से में सिर्फ कुछ टुकडे ही आते थे .एक दिन ऐसे ही वो जब रोटी के टुकड़े को ले के गयी और अपनी माँ को दिया तब उसमे से एक सोने का टुकड़ा मिला और उसने अपनी माँ से कहा "माँ ये रोटी से क्या निकला?"
उसकी माँ बोली से "बेटा ये सोने का टुकड़ा है शायद ये गलती से गिर गया होगा तब कल जब रोटी लेने जाना तब उस सेठ को"
ये सोने का टुकड़ा वापस कर देना .अगले दिन वो गयी और उसने कहा "कल रोटी से ये सोने का टुकड़ा मिला माँ ने कहा शायद ये गलती से गिर गया होगा ,माँ ने कहा की आप को वापस कर दू"

तब सेठ ने कहा "नहीं बेटी ये टुकड़ा तुम्हरा ही है ये तुम्हरे उस संतोष का फल है जो तुम यहाँ रोटी लेते वक़त करती हो'"
तब उस लड़की ने कहा "नहीं-नहीं मेरे संतोष के फल ये है की मुझे रोटी लेते वक़त धक्का नहीं खाना पड़ता है आप इसे वापस ले लों"
सेठ ने उस सिक्के को वापस ले लिया और अगले दिन उस लड़की की और उसकी माँ की ज़िम्मेदारी पूरी अपने ऊपर ले ली.
इस से आप को क्या सीख मील कभी भी अपनी नियत ख़राब ना करे .

कहानी-2 अपने बीच तीरसे को जगह ना दे 

एक जंगले में बहुत सारे जानवर रहते थे उन्ही में एक थी भैंस और एक था घोडा दोनों में बहुत गहरी दोस्ती थी.
लेकिन एक बार दोनों में किसी बात को ले के झगडा हो गया और बात मार-पीट तक आ गयी.
भैंस के सींग नुकीले थे वो लगातार उस से घोड़े पे वार कर रही थी.

घोड़े के पास उस समय जान बचाकर भागने के अलावा कोई और रास्ता नहीं था और भाग के जंगल के बाहर आ गया.तब उसे एक इन्सान मिला और  घोडा बोला "मनुष्य जी मेरी भैंस से लड़ाई हो गयी है और उसने मुझे अपनी सींग से बहुत मारा है ,कृपा कर के आप उसे सबक शिखा दो"
तब से इन्सान ने कहा "जब तुम उस नहीं जीत पाये तो मै कैसे उस से जीत पाउँगा"
तब घोड़े ने कहा "आप उसकी टेंशन मत लो बस आप एक  लाठी ले आओ और मेरे पीठ पर बैठ जाओ फिर आप उस भैंस की अच्छे से धुलाई कर देना और पकड कर अपने साथ ले जाना "
तब इन्सान ने कहा "भला में उस भैंस का क्या करूँगा?"
घोड़े ने कहा "अरे भाई भैंस दूध देती है उसे पकड़ के ले जाना और रोज दूध पीना"
मनुष्य  ने घोड़े की बात मान ली और उसके साथ जंगल में आ गया और अपनी लाठी से उस भैंस को खूब पीटा और अपने साथ ले आया.
तब घोड़े में कहा  "मनुष्य आप का बहुत-बहुत धन्यवाद अब मै चलता हु"
मनुष्य हस पड़ा और बोला तुम कहा जाते हो "अब तुम मेरे कब्जे में हो तुम्हारी पीठ पे बैठ कर ही तो मुझे पता चला की तुम कितने काम के हो" और उसने घोड़े को भी बांध लिया.

दोस्ती में अनबन और लड़ाई हो सकती है लेकिन कभी-भी किसी तीसरे को अपनी लड़ाई में ना आने दे.

कहानी-3 पानी का कर्ज

दिलबर एक बहुत ही खतरनाक डाकू था उसके ऊपर सरकार ने 50000 का इनाम घोषित किया था .

उस समय 50000 बहुत बड़ी रकम होती थी.एक बार पुलिस उस डाकू का पीछा कर रही थी.डाकू दिलबर
पुलिस से बचते हुए भाग रहा था .
उसके सभी साथी उस से बिचड गये थे और पूरी तरह अकेला था.गर्मी के दिन थे उसका प्यास से बहुत बुरा हाल था उसे समझ नहीं आ रहा था की वो क्या करे तभी उसे एक मंदिर दिखाई दियावो वहा पे गया लेकिन उसे पानी की एक बूंद भी नहीं मिली.
तभी उसने एक वृद्ध महिला को देखा जो मंदिर में प्रसाद और जल चडाने आई तब उस डाकू ने कहा"माता मै बहतु प्यासा हु क्या मुझे पानी मिल सकता है ?"
तब उस बुडिया ने कहा "बेटा ये पानी तो मै चडाने के लिए लायी हु पर तुम ये पि लो मै फिर से दुबारा पानी ला के इस मंदिर पे चडा दूंगी और उसने वो प्रसाद और जल उस डाकू को दे दिया"

डाकू दिलबर  ने प्रसाद खा के पानी पिया और पूछा "माँ तुम इतनी दूर से यहाँ पे जल चडाने क्यों आती हो?गाँव में भी तो मंदिर है?"
तब बुडिया ने कहा "ये मंदिर और शिवालय मेरे बेटे का बनाया हुआ है मेरे बेटे और बहु की मौत एक दुर्घटना में हो गयी थी उनकी एक बेटी थी जिसको मैंने पाल-पोस कर बड़ा किया है अगली महीने में उसकी शादी है"
डाकू दिलबर ने कहा "तब तो शादी के पूरी तैयारी चल रही होगी? "
तब बुडिया ने कहा "बेटा जिनके सहारे में शादी करने वाली थी वो सब अब मुकर गये है कोई मदद को तैयार नहीं है"
डाकू दिलबर ने कहा "तुम चिन्ता ना करो माँ ,मै तुम्हारे पानी का कर्जदार हो गया हु और इसका कर्ज जरुर उतारूंगा तुम घर जाओ सारी तैयारी हो जायेगी"
ये बात आकर बुडिया ने गाँव के कुछ लोगो को बताया और ये बात वहा के मुखिया को भी पता चली.
गाँव का मुखिया समझ गया था की ये कोई और नहीं डाकू दिलबर है और उसने इनाम के लालच में पुलिस को बता दिया .
शादी के 2 दिन पहले बुडिया के घर पे 5 बैलगाड़ी भर के खाने-पिने का सामान और कपडे लद के आया
बुडिया समझ गयी थी ये सब उसी ने भिजवाया है जिसको उसने पानी पिलाया था .

शादी वाले दिन जब डाकू दिलबर गाँव जा रहा था तब साथियों ने उसको बताया की वहा जाना ठीक नहीं है ,वहा पे पुलिस ने पहले से कब्ज़ा कर रखा है ,लेकिन डाकू दिलबर नहीं माना और घोड़े पे बैठ के चल दिया और उसने बुडिया की बेटी का कन्यादान किया.
लेकिन जब वो वापस आ रहा था तब पुलिस उसके पीछे पड़ गयी और खूब भागा लेकिन पुलिस की गोली उसको
लग गयी थी.जब वो जंगल में गया तो उसकी मौत हो गयी लेकिन वो खुश था क्यों की उसने अपना वादा निभाया था.
अच्छा काम करते हुए बिलकुल भी ना डरे
आप ऐसे ही और कहानियो के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते थे इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज लाइक
इस तरह की और कहानिया पढ़े

Wednesday, 27 June 2018

बुद्ध जी की प्रेरक कहानिया जो आप के जीवन को बदल देंगी inspirational stories in Hindi

- No comments
real life inspirational stories in Hindi और motivational story in Hindi for success या फिर आप खोज रहे है gautam buddha ki prerak kahaniya तो इस पोस्ट में आप को ये सब मिलेगा.
इसमें आप को hindi short stories in Hindi language with morals भी मिल जायेगा.इस पोस्ट में 4 प्रेरक कहानिया दी गयी है.

Motivational Kahani-1

एक किसान अपने दुखो से बहुत दुखी था किसी ने उसको बताया की वो भगवान बुद्ध के पास जाये और उसके सारे दुःख दूर कर देंगे.उस किसान को लग रहा था भगवान बुद्ध उसे सारी दिक्कतों से निकाल देंगे .
                                        
वो भगवान बुद्ध के पास गया और बोला "हे भगवान मै एक किसान हु मुझे खेती करना अच्छा लगता है लेकिन कभी भी वर्षा अच्छी मात्रा में नहीं होती है और मेरी फसल ख़राब हो जाती है.पिछले साल भी मेरे पास खाने को कुछ नहीं था और इस बार जब मैंने फसल लगायी तो बहुत अधिक वर्षा हुई.इसके कारण मेरी फसल को बहुत नुकसान पंहुचा अभी मेरे पास खाने को कुछ नहीं है मेरी बीवी और मेरे बच्चे भी है मै उनसे बहुत प्यार करता हु लेकिन कभी-कभी वो मेरी बात नहीं सुनते है तो लगता है की ये मेरे बच्चे ही ना होते"


ऐसे ही बहुत सारे दिक्कत उस किसान ने भगवान बुद्ध को बताया. और फिर आखिरी में उसके पास कोई
परेशानी नहीं बची और वो चुप हो गया.
भगवान बुद्ध  उसकी सारी परेशानी चुपचाप सुनते रहे तब किसान ने कहा "आप मेरी सहायता करे और मुझे इसका उपाय बताये"
तब भगवान बुद्ध ने कहा "मेरे पास इसका कोई समाधान नहीं है ".
ये सुनकर किसान चौक गया और उसने कहा की "सभी कहते है की आप सभी के दुखो का निवारण कर देते है तो क्या आप मेरे दुखो को निवारण नहीं करेंगे .इसलिये क्यों की मै
एक गरीब किसान हु".
तब बुद्ध भगवान ने कहा "सभी के जीवन में परेशानिया है ,तुम्हारे जीवन में कोई नई कठनाई नहीं है
ये दिक्कते तो सभी के जीवन में आती और जाती है ,कभी इन्सान सुखी होता है कभी दुखी होता है ,कभी-कभी उसे अपने पराये लगते है,कभी-कभी पराये अपने लगने लगते है,ये जीवन चक्र है इनसे कोई नहीं निकल सकता है.तुम इनका समाधान नहीं कर सकता है अगर तुम किसी एक दिक्कत का समाधान कर लो तो एक नई दिक्कत आ जाएगी इसलिये ये दिक्कते हमेशा बनी रहेंगी."


किसान बहुत गुस्सा हो गया और गुस्से में  बोला की आप किसी काम के नहीं हो लोग बोलते रहते है की आप भगवान हो लेकिन ऐसा कुछ नहीं है .आप से अच्छे तो वो साधू थे जो मेरे घर आये थे मेरे घर पे पूजा
करायी और दान लिया उस से मुझे अपार शांति मिली थी .इसके बाद हमारे जीवन में कुछ दुःख भी कम हुए और सुख भी आये थे.लेकिन आप ने तो मुझे कोई भी समाधान नहीं बताया.
तब बुद्ध भगवान ने कहा "क्या तुम्हरे वो सब पूजा-पाठ करने से तुम्हारे सारे दुःख ख़त्म हो गये? ,क्या तुम आज पहले से भी जादा दुःख में नहीं हो? ये दुःख कभी नहीं खत्म हो सकते है ."
तब किसान ने कहा "क्या में ये मान लू की आप मेरी कोई मदद नहीं कर सकते है?"
तब भगवान बुद्ध ने कहा तुम ये नहीं चाहते की तुम्हारी ज़िन्दगी में कोई दिक्कत हो इसलिये इतनी सारी दिक्कतों का जन्म हुआ है,अगर तुम इस बात को मान लो की जीवन में दिक्कते होती है ,सभी के जीवन में कोई ना कोई दिक्कत होती है,तुम सोचते हो की तुम इस दुनिया में सब से अधिक दुखी हो ,तुम अपने आस-पास दुसरे लोगो को देखो और फिर देखो क्या सब सुखी है ?,हर इन्सान को अपना दुःख सब से बड़ा लगता है उसे लगता है उस से जादा परेशानी किसी के जीवन में नहीं है.दुःख आता और जाता ये जीवन चक्र है.तुम अगर ध्यान से देखो तो पाओगे की जीवन सुख और दुख से भरा है.

अगर तुम सुख और दुख से ऊपर उठना चाहते हो तो मै ये कर सकता हु.वो किसान बुद्ध के पैरो में गिर पड़ा और बोला अब मै पूर्ण रूप से जीवन का आनंद लूँगा और सुख-दुःख के फेरे मे नहीं पडूंगा

Motivational Kahani-2

बहुत समय की बात है एक किसान अपनी गरीबी से बहुत परेशान हो गया था उसकी बीवी और 2 बच्चे थे.

उनकी देखभाल के बोझ ने उसके मन को उथल-पुथल कर दिया था उसे समझ नहीं आ रहा था वो क्या करे ?
मन की इसी उथल-पुथल में उसने घर छोड़ कर भाग जाने का फैसला कर लिया और घर से भाग गया.
वो इंसान बिना मंजिल के बढता जा रहा था.वो एक जंगल से गुजर रहा था तब नदी के किनारे उसने देखा की भगवान बुद्ध अपने कुछ शिष्य के साथ वहा पे डेरा डाले हुए है.


ये देख कर उसने सोचा की अब वो भगवान बुद्ध का शिष्य बन जायेगा और जा के उनके चरणों में गिर गया और उनसे विनती की उनका शिष्य बनने के लिए.भगवान बुद्ध ने उसे अपना शिष्य बना लिया.उसके बाद जब बुद्ध जी का काफिला आगे बड़ा वो उनके साथ चल लिया गर्मी का महीना था  भगवान बुद्ध का काफिला चलता जा रहा था.जब वो सब एक जंगल में पहुचे तब सभी आराम करने के लिए  पेड़ो के निचे बैठ गये.
गर्मी के कारण भगवान बुद्ध को बहुत तेज़ की प्यास लगी .इसलिये उन्हों ने अपने नये शिष्य से कहा "यहाँ पे एक सरोवर है तुम वहा से जा के पानी ले आओ"
जब वो नया शिष्य सरोवर के पास गया तो उसने देखा कुछ जंगली जानवर उस सरोवर में उधम मचा रहे है लेकिन जब वो सरोवर के पास पंहुचा तब सभी जानवर डर के भाग गये.उस शिष्य  ने पास जा के देखा की सरोवर का पानी काफी गन्दा हो चुका है सरोवर का कीचड़ और सड़े-गले पत्ते बाहर आ गये है .इतना गन्दा पानी देख के वो शिष्य  बिना पानी लिए ही वापस आ गया.
और आ कर बोला "भगवान उस सरोवर में तो बहुत ही गन्दा पानी है उसे पिया  नहीं जा सकता है "
उसकी बात सुन कर भगवान बुद्ध कुछ नहीं बोले और फिर थोड़ी देर बाद बोले जाओ उसी सरोवर से पानी ले के आओ.
वो आदेश मान कर पानी लेने चल पड़ा लेकिन पूरे रास्ते यही सोचता रहा की इतना गन्दा पानी भगवान बुद्ध कैसे पियेंगे?
लेकिन जब वो सरोवर के पास पंहुचा तो ये देख के चौक गया की सरोवर का पानी निर्मल और साफ़ हो गया है
इसलिये वो पानी ले के उनके पास आया.और उनसे ये सवाल किया आखिर ये कैसे हुआ?
तब भगवान बुद्ध ने कहा "जब जानवर उसमे उधम मचा रहे थे तब कीचड़ बाहर आ गया था लेकिन जब पानी शांत हुई तब कीचड़ निचे बैठ गया और पानी निर्मल हो गया, ऐसी ही हमारी मन की स्थिति होती है हम जीवन की कठनाई से परेशान हो कर कभी-2 गलत फैसला ले लेते है क्यों की ज़िन्दगी की भाग दौड़ हमारे मन में उथल-पुथल पैदा कर देती है और उस अवस्था में हम गलत फैसला कर लेते है लेकिन अगर हम कोई भी फैसला लेने से पहले अपने मन को शांत और अच्छा रखे तो हम अच्छा फैसला लेंगे जिस से हमारा कल्याण होगा"
ये बात उस शिष्य को समझ आ गयी और उसने शांत हो कर जब सोचा तब उसको ये बात समझ आयी की उसका घर छोड़ना गलत फैसला था और वो भगवान बुद्ध को प्रणाम कर के वापस अपने घर चला गया

Motivational Kahani-3


एक बार भगवान बुद्ध और उनके शिष्य एक राज्य में गये जहा की रानी बहुत ही कूरू थी.जो जनता पे बहुत अत्याचार करती हथी.ये पता होते हुए भी भगवान बुद्ध उस राज्य में गये और जब ये बात उस रानी को
पता चली तो वो बहुत गुस्सा हो गयी और उसने अपने सेवको से कहा की वो जाकर बुद्ध जी क अपमान करे और उनका अनादर करे जिस से वो राज्य छोड़कर भाग जाये.
जैसे ही बुद्ध जी ने राज्य पे प्रवेश किया उन लोगो ने बुद्ध जी को उल्टा-सीधा बोलना शुरु कर दिया और  लोगो के मन में उनके प्रति अनादर की भावना पैदा कर दी.
इससे उस नगर का हर इन्सान बुद्ध जी की आलोचना करने लगा और उन्हें ढोंगी कहने लगा लेकिन इतना सब कुछ सुनकर पर भी वो चंद्रमा के सामान शांत रहे.बुद्ध जी का इतना अपमान देख कर उनके शिष्य को बहुत गुस्सा आया और उन्होंने कहा

 "इस नगर को छोड़ कर हमे चले जाना चाहयिए जहा पे हमरा अपमान न हो ,जहा पे हमारी कीर्ति हो ,जहा पे लोग हमे पूजे."
बुद्ध जी ने अपने शिष्य  की बात ध्यान से सुनी और बोले "जरुरी नहीं है की हर जगह पे लोग तुम्हारा आदर करेंगे अगर किसी भी स्थान पे आपका अनादर होता है तो उस स्थान को तब तक नहीं छोड़ना चाहयिए जब तक वहा के लोग आप का आदर ना करने लगे ,मनुष्य के जीवन में  अपमान और आलोचना का बहुत बड़ा महत्व है ,अपमान और आलोचना ही आप की सफलता की सीड़ी है,अगर आप अपमान और आलोचना की सीड़ी पे चड़ने से डरेंगे तो आप कभी सफल नहीं हो सकते है,अपमान और आलोचना का डट कर और हस कर सामना करना चाहयिए,अगर आपका कोई अपमान करता है तो बदले में आप को उसका अपमान नहीं करना चाहयिए,आप को शांत रह कर उसका सामना करना चाहयिए और बदले उस इन्सान को सम्मान दे.अगर आप लोगो की आलोचना से डर कर भाग जाओगे तो आप कभी भी सफल नहीं हो सकते है ,अपमान और आलोचना का सामना तो खुद भगवान राम ने किया है इसलिये हमे कभी भी इनसे डरना नहीं चाहयिए,एक दिन आप सफल होंगे"
भगवान बुद्ध भी कई दिन तक लोगो का अपमान सहते रहे लेकिन उनका तेज़ सुर्य के सामान था लोगो को और रानी को अपनी गलती का एहसास हुआ और सब ने उनसे माफ़ी मांगी और उनके भक्त बन गये .

Motivational Kahani-4

एक समय की बात है एक बार बुद्ध जी एक धर्म सभा को संबोधित कर रहे थे बहुत सारे लोग उनके पास आते
और खुशी-खुशी लौट जाते.

उसी गाँव के सडक किनारे एक गरीब किसान रहता था और वो बुद्ध जी के सिबिर में आने -जाने वाले लोगो को ध्यान से देखता था.उसे बहुत अचम्भा होता था की जब कोई इन्सान सिबिर में जाता है तो बहुत दुखी होकर जाता है लेकिन जब वापस आता है तो बहुत खुशी से आता है.
उस गरीब को लगा क्यों ना वो भी अपनी दिक्कत बुद्ध जी को बताये ?

वो भी सिबिर में गया और बुद्ध जी से मिलने के लिए लाइन में लग गया और जल्दी ही उसका नंबर आ गया .
उसने बुद्ध जी को प्रणाम किया और बोला "भगवान इस गाँव में सभी लोगो खुस और धनी है फिर मै ही गरीब हु क्यों हु?"
तब भगवान बुद्ध हसकर बोले "तुम इतने गरीब इसलिये हो क्यों की तुमने खुद कभी किसी को कुछ नहीं दिया "
इस पर गरीब आदमी बोला "भगवान मेरे पास देने को क्या है ?मेरा तो खुद का गुजारा बहुत मुश्किल से होता है मै दुसरो को क्या दूंगा?लोगो से भीख मांग कर अपना गुजारा करता हु"
तब भगवान बुद्ध बोले "तुम्हे दुसरो के साथ बाटने के लिए भगवान ने और भी कुछ दिया है मुख दिया हुआ ताकि तुम 2 मीठे शब्द बोल सको और 2 हाथ दिया है जिस से तुम लोगो की मदद कर सकते हो जिनको भगवान ने ये चीज़े दी है वो कभी गरीब नहीं हो सकता है ,इन्सान गरीब अपने मन से होता है,इस भ्रम को अपने मन से निकाल दो की तुम गरीब हो"
ये बात सुनकर वो इंसान खुस हो गया और इस उद्देश को अपने जीवन में उतारा और वो बहुत खुस रहने लगा.
आप ऐसे ही और कहानियो के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते थे इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज लाइक
इस तरह की और कहानिया पढ़े

Tuesday, 26 June 2018

लड़के और लोमड़ी की कहानी panchtantra ki kahaniya in hindi

- No comments
इस पोस्ट में आप को story for kids in hindi और bacho ki kahaniya के साथ ही  panchatantra short stories in hindi with moral दिया गया है.इसमें एक kids kahani दी गयी है जो आप के बच्चे को जरुर पसंद आयेगी.

किसी ज़माने में एक राजा हुआ करता था जिसके पास एक खास -किसम का सेब का पेड़ था जिसके ऊपर सोने के सेब उगते थे .हर रोज माली इन सेब को गिनता था और राजा के हवाले करता था .


लेकिन एक दिन जब माली ने सेब गिने तो उसमे एक सेब कम था.जब माली ने एक सेब कम होने की बात राजा को बतायी तो वो बहुत गुस्सा हो गया.
और सुने कहा "हम चोर को सजा देंगे "
उस रात माली ने अपने बड़े बेटे को पहरेदारी के लिए रखा लेकीन आधी रात को बड़ा बेटा सो गया और अगले दिन एक सेब और चोरी हो गया .

तब माली ने कहा "आज मै अपने दुसरे बेटे को रखवाली के रखूंगा"
रात हो गयी और माली का दूसरा बेटा भी आधी रात में सो गया और अगले दिन फिर से एक सेब कम पाया गया .
फिर सब से छोटे और तीसरे बेटे ने रखवाली की ज़िम्मेदारी ली. रात को जैसे ही 12 बजे कुछ आवाज़ आई ,उस लड़के ने देखा की एक पंछी जो असली में सोने का था उड़ता हुआ वहा गया  और सेब खाने लगा .
तब उस लड़के  ने अपनी तीर उस पे चला दी लेकिन तीर से पंछी को कोई नुकसान नहीं हुआ सिर्फ उसका एक पंख गिर गया और वो पंछी उड़ गया.

अगले दिन सुबह उस पंख को राजा के सामने पेश किया गया.तब सारे मंत्रियो को बुलाया गया और सब ने बोला ये सभी शाही खजाने से कही जादा कीमती है .
और राजा ने कहा "इस एक पंख से मेरा क्या होगा मुझे तो पूरा पंछी चाहयिए ऐसा कोन सा बहादुर है जो
इस पंछी को मेरे सामने पेश करेगा "
माली का बड़ा बेटा आगे बड़ा और इसकी ज़िम्मेदारी ली और चला पड़ा उस पंछी की खोज में.जब वो जंगल से निकल रहा था तब उसने एक लोमड़ी को वहा पे बैठा हुआ देखा ये देख कर उसने अपने तीर से उसको निशाना
बनाया.

तब उस लोमड़ी ने कहा "कृपा कर के मुझे मत मरो मै अच्छी सलाह दूंगा मै जनता हु वो सोने का पंछी तुम्हे कैसे मिलेगा, तुम एक गाँव में जाओ जहा तुम्हे 2 घर आमने -सामने नज़र आएंगे ,जिसमे एक खुबसूरत होगा और दूसरी झोपडी जैसी होगा तुम रात को रुकने के लिए झोपडी में रुकना "
लेकिन  माली का बेटा सोचने लगा इस लोमड़ी को कैसे पता है ये सब ?और उसने तीर उस पर चला दी लेकिन लोमड़ी भाग गया उसका निशाना चूक गया था .फिर वो गाँव के रास्ते चल दिया जहा पे उसे 2 घर आमने -सामने दिखे.एक घर के सामने कुछ लोग नाच गा रहे थे और वो बहुत अच्छा घर था वही दूसरी तरफ एक झोपडी थी जहा पे गुंडा गर्दी और गरीब लोग थे .

तब उसने सोचा की अगर मै इस झोपडी में गया तो मेरी यह बहुत बड़ी बेवकूफी होगी,इसलिये वो बढ़िया घर में गया,जहा उसने खाया-पिया और अपने लक्ष्य को भूल गया.समय निकलता गया और बड़ा बेटा वापस नहीं आया तब दूसरा बेटा भी निकल गया.
उसका भी यही हाल हुआ जब वो उस घर के सामने पंहुचा तब उसके बड़े भाई ने उसे बुलाया और दोनों खाने-पिने में मस्त हो गये .
जब बहुत टाइम निकल गया तब छोटा बेटा उस पंछी की खोज में निकला उसको भी वही लोमड़ी मिली और उसे वही सलाह दिया उस लड़के ने उसका सुक्रिया बोला.
तब लोमड़ी ने कहा "तुम मेरी पूंछ पे बैठ जाओ मै तुम्हे जल्दी पंहुचा दूंगा"
और जल्द ही दोनों गाँव पहुचे छोटे लड़के ने उस झोपडी में रात बितायी अगले दिन लोमड़ी फिर वापस आया और बोला "तुम आगे बढना तुम्हे एक किला मिलेगा ,जहा बहुत सारे सैनिक गहरी नीद में सो रहे होंगे उनकी तरह ध्यान बिलकुल मत देना और अन्दर जाना,तुम्हे एक कमरा मिलगा जहा पे वो पंछी एक पिंजरे में बैठा होगा उसके सामने ही एक सोने का पिजरा भी होगा लेकिन तुम उस पिजरे को बदलने की कोशिस मत करना नहीं तो पछताओगे "
वो लड़का फिर लोमड़ी के पूंछ पर बैठ गया और उस महल में पहुच गया.और वो महल के अन्दर गया जहा उसे वो पंछी मिला
और उसने सोचा "इस खुबसूरत पंछी को लकड़ी के पिजरे में रखना अच्छी बात नहीं है इसे सोने के पिजरे में रखना चाहयिए".



और जैसी ही उसने पिंजरा खोला पंछी के आवाज़ से सारे सोते सैनिक जग गये और उसे बंदी बना लिया .

अगले दिन उसे दरबार में पेश किया गया और उसे मौत की सजा सुनाई गयी.उसने राजा से विनती की वो उसको छोड़ दे तब राजा ने कहा की वो उसको एक शर्त पे छोड़ सकते है "जाकर मेरे लिए वो सोने  का घोडा ले कर आओ जो तूफान से तेज दौड़ सकता है तभी मै तुम्हे माफ़ करूँगा.और तुम्हे वो सोने की पंछी भी दे दूंगा" .

वो लड़का जंगल की तरफ जा रहा था तभी उसे उसका दोस्त लोमड़ी मिला
लोमड़ी ने कहा "देखा क्या हुआ मेरी सलाह ना मानने का नतीजा लेकिन तुम अच्छे लड़के हो इसलिये मै तुम्हरी मदद करूँगा ,तुम सीधे जाना तुम्हे एक किला नज़र आयेगा जहा  वो सोने का घोडा खड़ा होगा ,उसके पास ही उसकी देख-रेख करने वाला गहरी नींद में सो रहा होगा ,घोड़े को चुपचाप वहा से निकाल लेना ,और उसके ऊपर  पुराना चमड़े का गद्दी डालना ना भूलना उसके पास ही सोने की गद्दी भी होगी तुम उसको हाथ मत लगाना"
और लोमड़ी ने उस लड़के को अपनी पूंछ पे बैठा कर महल के सामने छोड़ दिया,सब कुछ सही जा रहा था .

लेकिन घोड़े के पास जा कर वो लड़का बोला मै इसके ऊपर सोने की गद्दी डालूँगा जिस पर इसका हक़ बनता है लेकिन जैसे उसने सोने की गद्दी उठाई उसका देख -रेख करने वाला जाग गया और उसे बंदी बना लिया और अगले दिन दरबार में पेश किया गया उसने फिर दया की भीख मांगी
तब राजा ने कहा "अगर तुम खबसूरत राजकुमारी को मेरे पास ले कर आओ तो मै तुम्हे माफ़ कर दूंगा और वो पंछी और घोडा अपने पास रख सकते हो"
लड़का फिर निकल पड़ा उसे फिर वो लोमड़ी मिली
उसने कहा "अगर तुमने मेरी बात मानी होती तो आज तुम्हारे पास पंछी के साथ-साथ घोडा भी होता,मै तुम्हरी फिर से मदद करूँगा ,तुम सीधे जाओगे तो एक किले के पास जाओगे जहा राजकुमारी से मिलना और उसे चूम लेना ,और फिर आधी रात को राजकुमारी नहाने जाती है तब वो तुम्हे रास्ता बताएगी,लेकिन एक बात का ध्यान रखना तुम उसे उसके माँ-बाप के पास विदाई लेने बिलकुल भी मत जाने देना "
वो दोनों किले के पास पहुचे और लड़के ने वैसा ही किया ,आधी रात को राजकुमारी से मिला और उसे चूम लिया ,राजकुमारी भी उसके साथ भागने को तैयार हुई,लेकिन उसने रोते हुए लड़के से विनती की वो अपने पिता से मिलना चाहती है,और लड़के ने उसकी बात मान ली ,लेकिन वो जैसे ही अपने पिता से मिलने आयी ,लड़के को फिर से बंदी बना लिया गया.

और राजा ने कहा "तुम मेरी बेटी को तब तक नहीं ले जा सकते जब तक तुम सामने वाले पहाड़ को 8 दिन के अन्दर हटा नहीं देते जो मेरे खिड़की से दिख रहा है"
वो पहाड़ इतना विशाल था की वो सात दिन मे बस कुछ ही हिस्सा तोड़ पाया था ,वो दुखी होकर बैठ गया तभी उसका दोस्त लोमड़ी वहा पे आया और बोला "तुम सो जाओ मै तुम्हारा ये काम कर दूंगा "
वो सो गया और जब सुबह उठा तब उसने देखा पूरा पहाड़ गायब था ,वो खुशी-खुशी राजकुमारी को अपने साथ ले के चल दिया


तभी उसका दोस्त लोमड़ी वहा मिला और उसने कहा "अब तुम तीनो को साथ ले जा सकते हो ,मेरी बात ध्यान से सुनो राजा के पास जाओ और उसे राजकुमारी दे देना,वो बहुत खुश होगा ,फिर तुम घोड़े पे सवार होना और उनसे विदा लेना,राजकुमारी से आखिरी में हाथ मिलाना और तभी उसे झट से घोड़े पे बैठा लेना और जितना जल्दी हो सके वहा से निकल लेना,उसके  बाद दुसरे किले में जाना मै राजकुमारी के साथ बाहर रुकुंगा तुम घोड़े को दयालु राजा को दिखाना और वो पंछी बाहर लेकर आ जायेंगा और तुम उस से कहना पंछी मुझे एक बार देखने दो, ये असली सोने का पंछी है की नहीं,जैसे ही तुम्हारे हाथ में पंछी आयेगा तुम वहा से घोड़े पे बैठ के निकल लेना "
जैसा लोमड़ी ने कहा था सब कुछ वैसा ही हुआ
तब उस लड़के ने कहा "तुम्हारा सुक्रिया मेरे दोस्त बोलो मेरे दोस्त तुम्हारे लिए मै क्या कर सकता हु ?"
लोमड़ी ने कहा "मुझे खत्म कर दो "
लड़का चौक गया और बोला "मै ऐसा नहीं कर सकता है तुम मेरे दोस्त हो "
तब लोमड़ी बोला "मेरी एक बात ध्यान रखना वापस जाते वक़्त किसी को भी फांसी से मत बचाना और फिरोती मत देना ,याद रहे नदी के किनारे बिलकुल भी मत बैठना"
वो राजकुमारी के साथ एक  गाँव में पंहुचा जहा 2 लोग को फांसी होने वाली थी उसने वहा जाकर देखा वो उसके भाई थे ,जो चोर बन गये तब उस लड़के ने बोला मेरे सारे पैसे ले लो लेकिन इनको छोड़ दो,अपने भाइयो के साथ

वो उस जंगल में पंहुचा जहा उसे लोमड़ी मिली तब उसके
भाइयो ने कहा "आओ यहाँ बैठ कर कुछ खाते है "
उसने उनकी बात मान ली और वो लोमड़ी की बात भूल गया.वो कुछ सोचता उस से पहले ही उसके भाइयो ने उसे नदी में धक्का दे दिया और राजा के पास पहुच के बोले "हम सोने की पंछी के साथ-साथ और भी बहुत कुछ लाये है ,एक सोने का घोडा और एक राजकुमारी और ये सब हमारी मेहनत से हुआ है ."
शाम को जशन रखा गया लेकिन घोडा उदास था ,पंछी गाना नहीं गा रहा था ,और राजकुमारी रो रही थी.
छोटा लड़का नदी में गिर गया था लेकिन पानी कम होने की वजह से उसकी जान बच गयी थी .लेकिन वो इतना गहरे गड्ढे में था की बाहर नहीं निकल पा रहा था .तभी लोमड़ी ने फिर से उसकी मदद करी और उसे नदी से बाहर निकाला.और बताया तुम्हारे भाइयो ने उसके लिए सिपाही रखे है जो उसे देखते ही मार देंगे
तब उस लड़के ने अपना भेष बदला और महल में घुस गया ,जैसे ही वो नज़र आया घोड़े ने खाना शुरू किया ,पंछी ने गाना शुरू किया और राजकुमारी ने रोना बंद कर दिया .


फिर वो राजा के पास गया वो अपने भाइयो के बारे में बताया तब राजा ने उसके भाइयो को कैद कर लिया और राजकुमारी उसे दे  दी और राजा के मरने के बाद उसे नया राजा बनाया गया.कुछ दिन गुजर जाने के बाद वो जंगल की तरह गया वहा उसे वही लोमड़ी मिला.
उस लोमड़ी ने उस से गुजारिश की वो उसे खत्म कर दे उसको मुक्ति दिला दे लड़के ने उसको खत्म कर दिया और जैसे ही उसकी मौत हुई वो एक इन्सान में बदल गया और वो राजकुमारी का भाई निकला

जिसको किसी जादूगर ने लोमड़ी बना दिया था .अब सभी खुशी-खुशी रहने लगे थे .
आप ऐसे ही और कहानियो के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते थे इसके लिए इस लिंक पे क्लिक करे फेसबुक पेज लाइक

इस तरह की और कहानिया पढ़े
इस कहानी का विडियो आप इस लिंक पे क्लिक कर के देख सकते है